Google+ Followers

FREECHARGE CLICK & RECHARGE

loading...

Saturday, 18 February 2017

बदलना आता नहीं ..........

बदलना आता नहीं हमे मौसम की तरह,
हर इक रुत में तेरा इंतज़ार करते हैं,
ना तुम समझ सकोगे जिसे क़यामत तक,
कसम तुम्हारी तुम्हे हम इतना प्यार करते हैं