Google+ Followers

FREECHARGE CLICK & RECHARGE

loading...

Tuesday, 31 May 2016

तुम बेवफा नहीं................

तुम बेवफा नहीं ये तो धड़कनें भी कहती हैं, 
अपनी मज़बूरिओं का एक पैगाम तो भेज देते ।


मैं अपनी चाहतों..................

मैं अपनी चाहतों का हिस्सा जो लेने बैठ जाऊं, 
तो सिर्फ मेरा याद करना भी ना लौटा सकोगे 


कभी तो अपना...............

कभी तो अपना वजूद 
हम पर लुटा के देख 
क्यों दो कदम चलकर तेरा 
यकीन ठहर जाता है । 


न मोहब्बत संभाली....................


न मोहब्बत संभाली गई, 
न नफरतें पाली गईं, 
बङा अफसोस है उस जिंदगी का, 
जो तेरे पीछे खाली गई 


Monday, 30 May 2016

फासले बढ़े तो...............

फासले बढ़े तो गलतफहमियां और भी बढ़ गयीं, 
फिर उसने वह भी सुना जो मैंने कहा ही नहीं ।


तुझसे मै इजहार...................



Buy Super Matteress Black Sneaker Shoes from Snapdeal
 तुझसे मै इजहार ए मोहब्बत इसलिए भी नही करता, 
सुना है बरसने के बाद बादलो की अहमियत नही रहती

उनकी मर्जी हो..................


Puma Men's ModifyDP Blue Wing Teal, White and Blue Heaven Running Shoes - 8 UK
उनकी मर्जी हो तो बात करते है और एक हम है 
जो पूरे दिन उनकी मर्जी का ही इंतज़ार करते है ।


मुझसे ‪बात.........................


                                                                   


मुझसे ‪बात‬ ना करके वो ‪‎खुश‬ है 
तो फिर ‪शिकायत‬ कैसी। 

और मै उसे खुश भी ना ‪देख‬ पाऊ 
तो फिर ‪मोहब्बत‬ कैसी।


Sunday, 29 May 2016

जितनी खूबसूरत.......................

जितनी खूबसूरत ये सुबह है, 
उतना ही खूबसूरत आपका हर पल हो, 
जितनी भी खुशियाँ आज आपके पास हैं, 
उससे भी अधिक आने वाले कल हो। 
। सुप्रभात 


Saturday, 28 May 2016

अधूरी हसरतों का..................

अधूरी हसरतों का आज भी इलज़ाम है तुम पर, 
अगर तुम चाहते तो ये मोहब्बत ख़त्म ना होती।


ना तुम बुरे सनम..............

ना तुम बुरे सनम, ना हम बुरे सनम, 
कुछ किस्मत बुरी है और कुछ वक्त बुरा है।


अगर वो पूछ लें...............

अगर वो पूछ लें हमसे 
कहो किस बात का ग़म है, 
तो फिर किस बात का ग़म है, 
अगर वो पूछ लें हमसे।


Friday, 27 May 2016

बन कर अजनबी.................

बन कर अजनबी मिले थे ज़िंदगी के सफ़र में, 
इन यादों के लम्हों को मिटायेंगे नहीं, 
अगर याद रखना फितरत है आपकी, 
तो वादा है हम भी आपको भुलायेंगे नहीं।


हर फूल आपको ..................

हर फूल आपको एक नया अरमान दे, 
सूरज की हर किरण आपको सलाम दे, 
निकले कभी जो एक आँसू भी आपका, 
तो खुदा आपको उससे दोगुनी मुस्कान दे। 
। सुप्रभात ।


तन्हाई मेरे दिल................

तन्हाई मेरे दिल में समाती चली गयी, 
किस्मत भी अपना खेल दिखाती चली गयी, 
महकती फ़िज़ा की खुशबू में जो देखा प्यार को, 
बस याद उनकी आई और रुलाती चली गयी।


कोई चला गया....................

कोई चला गया दूर तो क्या करें, 
कोई मिटा गया सब निशान तो क्या करें, 
याद आती है उनकी हमें हद से ज्यादा, 
मगर वो याद ना करें तो क्या करें...।


ना कर जिद ............

ना कर जिद अपनी हद मे रह ए दिल, 
वो बड़े लोग है मर्जी से याद करते है...।


हर रात एक नाम .......................

हर रात एक नाम याद आता है, 
कभी सुबह कभी शाम याद आता है, 
जब सोचते हैं कर लें दूसरी मोहब्बत, 
तब पहली मोहब्बत का अंजाम याद आता है ।


Thursday, 26 May 2016

बादलो से कह दो................


बादलो से कह दो 
जरा सोच समझकर बरसे, 
अगर मुझे उसकी याद आ गयी 
तो मुकाबला बराबरी का होगा ।


हद-ए-शहर से..............

हद-ए-शहर से निकली तो गाँव गाँव चली, 
कुछ यादें मेरे संग पाँव पाँव चली । 

सफ़र जो धूप का किया तो तजुर्बा हुआ, 
वो जिंदगी ही क्या जो छाँव छाँव चली ।


यूँ तो मुद्दतें ................

यूँ तो मुद्दतें गुजार दी है 
हमने तेरे बगैर... 

मगर, 
आज भी तेरी यादों का एक झोंका 
मुझे टुकड़ो मे बिखेर देता है ।


याद आयेगी ...................


याद आयेगी हमारी तो 
बीते कल की किताब पलट लेना, 
यूँ ही किसी पन्ने पर 
मुस्कराते हुए हम मिल जायेंगे।


Wednesday, 25 May 2016

सुबह-सुबह आपको...............

सुबह-सुबह आपको एक पैगाम देना है, 
आपको सुबह का पहला सलाम देना है, 
गुज़रे सारा दिन आपका ख़ुशी ख़ुशी, 
आपकी सुबह को खूबसूरत सा नाम देना है। 
। सुप्रभात ।


जाने उस शख्स को..................

जाने उस शख्स को कैसे ये हुनर आता है, 
रात होती है तो आँखों में उतर आता है । 

मैं उस के खयालो से बच के कहाँ जाऊं, 
वो मेरी सोच के हर रस्ते पे नजर आता है 


लफ्ज़, अल्फाज़............

लफ्ज़, अल्फाज़, कागज़ और किताब, 
कहाँ कहाँ नहीं रखता मैं तेरी यादों का हिसाब ।


Tuesday, 24 May 2016

हँसी आपकी ...................

हँसी आपकी कोई चुरा ही ना पाये, 
कभी कोई आपको रुला ना पाये, 
खुशियों के ऐसे दीप जले ज़िंदगी में, 
कि कोई तूफ़ान भी उसे बुझा ना पाये। 
। आपका दिन खूबसूरत गुजरे । सुप्रभात ।


अजीब जुल्म ...................

अजीब जुल्म करती हैं 
तेरी यादें मुझ पर, 
सो जाऊं तो उठा देती हैं 
जाग जाऊँ तो रुला देती है ।


आज हम हैं कल...........


आज हम हैं कल हमारी यादें होंगी, 
जब हम ना होंगे तब हमारी बातें होंगी, 
कभी पलटोगे ज़िन्दगी के यह पन्ने, 
तब शायद... 
आपकी आँखों से भी बरसातें होंगी।


साँस थम जाती है................

साँस थम जाती है पर जान नहीं जाती, 
दर्द होता है पर आवाज़ नहीं आती, 
अजीब लोग हैं इस ज़माने में ऐ दोस्त, 
कोई भूल नहीं पाता... 
और किसी को याद नहीं आती।


Monday, 23 May 2016

दिल की हालात बताई ..................


दिल की हालात बताई नहीं जाती, 
हमसे उनकी चाहत छुपाई नहीं जाती, 
बस एक याद बची है उनके जाने के बाद, 
वो याद भी दिल से निकाली नहीं जाती।


रख लो दिल में संभाल..................

रख लो दिल में संभाल कर थोड़ी सी यादें हमारी, 
रह जाओगे जब तन्हा...बहुत काम आयेंगे हम।


फूलो की तरह हंसती.................

फूलो की तरह हंसती रहो, 
कलियोँ की तरह मुस्कुराती रहो, 
खुदा से सिर्फ इतना मांगता हूँ, 
कि तुम मुझे हमेशा याद आती रहो ।


मेरी चाहत में कोई................


मेरी चाहत में कोई कमी तो नहीं है,
फिर क्यों वो बार-बार आज़माए मुझे,

दिल उसकी याद से एक पल भी नहीं जुदा,
फिर कैसे मुमकिन है वो भूल जाए मुझे।



दिल में आप हो.................


दिल में आप हो और कोई खास कैसे होगा, 
यादों में आपके सिवा कोई पास कैसे होगा, 
हिचकियॉं कहती हैं आप याद करते हो, 
पर बोलोगे नहीं तो मुझे एहसास कैसे होगा।


Sunday, 22 May 2016

ऐ सुबह तुम ..................


ऐ सुबह तुम जब भी आना, 
सबके लिए खुशिया लाना, 
हर चेहरे पर हंसी सजाना, 
हर आँगन में फूल खिलाना ।


ना चाहकर भी ..........

ना चाहकर भी मेरे लब पर ये फ़रियाद आ जाती है ।

ऐ चाँद सामने न आ किसी की याद आ जाती है ।




Saturday, 21 May 2016

तेरे नाम से मुहब्बत की...........


तेरे नाम से मुहब्बत की है, तेरे एहसास से मुहब्बत की है, 
तू मेरे पास नही फिर भी, तेरे याद से मुहब्बत की है ।


सजा बन जाती है .....................


सजा बन जाती है गुज़रे हुए 
वक़्त की यादें, 
न जाने क्यों छोड़ जाने के लिए 
ज़िन्दगी में आते है लोग ।


कहते हैं कि ...............

कहते हैं कि 
जब कोई किसी को बहुत याद करता है 
तो तारा टूट के गिरता है । 
एक दिन सारा आसमान खाली हो जायेगा 
और इल्ज़ाम हमारे सर आयेगा।


जरूरी तो नही है................

जरूरी तो नही है कि तुझे आँखों से ही देखूँ.. 
तेरी याद का आना भी तेरे दीदार से कम नही।


उसकी यादों को किसी................


उसकी यादों को किसी कोने में छुपा नहीं सकता, 
उसके चेहरे की मुस्कान कभी भुला नहीं सकता, 
मेरा बस चलता तो उसकी हर याद को भूल जाता, 
लेकिन इस टूटे दिल को मैं समझा नहीं सकता।


Friday, 20 May 2016

उगता हुआ सूरज...............


उगता हुआ सूरज दुआ दे आपको, 
खिलता हुआ फूल खुशबू दे आपको, 
हम तो कुछ देने के काबिल नहीं है, 
देने वाला हज़ार खुशियां दे आपको। 
सुप्रभात


मजबूर नही करेंगे..............

मजबूर नही करेंगे तुझे वादे निभानें के लिए, 
बस एक बार आ जा, अपनी यादें वापस ले जाने के लिए।


कुछ खूबसूरत पलों..................


कुछ खूबसूरत पलों की महक सी हैं तेरी यादें, 
सुकून ये भी है कि ये कभी मुरझाती नहीं।


अहसास मिटा..................

अहसास मिटा, 
तलाश मिटी, 
मिट गई उम्मीदें भी, 
सब मिट गया पर, 
जो न मिट सका 
वो है यादें तेरी।


नशीली आँखों से...............


नशीली आँखों से वो जब हमें देखते हैं, 
हम घबरा कर आँखें झुका लेते हैं, 
कौन मिलाये उन आँखों से आँखें, 
सुना है वो आँखों से अपना बना लेते हैं


इस प्यार का ..................


इस प्यार का अंदाज़ कुछ ऐसा है, 
क्या बताये ये राज़ कैसा है; 
कौन कहता है कि आप चाँद जैसे हो, 
सच तो ये है कि खुद चाँद आप जैसा है।


Thursday, 19 May 2016

सुबह के फूल............

सुबह के फूल खिल गए, 
पंछी अपने सफ़र पर उड़ गये। 
सूरज आते ही तारे भी छुप गये, 
लो आप भी मीठी नींद से उठ गये। 
शुभ प्रभात


जैसे धुऐं के पीछे................


जैसे धुऐं के पीछे से सूरज का चमकना, 
घने बादलों के पीछे से चाँद का खिलना, 
पंखुडियाँ खोलकर कमल का खिलखिलाना, 
वैसे घूँघट की आड से तेरा लाजवाब मुस्कुराना