Google+ Followers

FREECHARGE CLICK & RECHARGE

loading...

Saturday, 30 April 2016

उनका भी कभी .......................

उनका भी कभी हम दीदार करते है

उनसे भी कभी हम प्यार करते है

क्या करे जो उनको हमारी जरुरत न थी

पर फिर भी हम उनका इंतज़ार करते है !



एक पहचान हज़ारो.................

एक पहचान हज़ारो दोस्त बना देती हैं,

एक मुस्कान हज़ारो गम भुला देती हैं

ज़िंदगी के सफ़र मे संभाल कर चलना

एक ग़लती हज़ारो सपने जला कर राख देती है



दीवानगी मे कुछ.........

दीवानगी मे कुछ एसा कर जाएंगे।

महोब्बत की सारी हदे पार कर जाएंगे।
वादा है तुमसे ।
दिल बनकर तुम धड़कोगे और सांस बनकर हम आएँगे।।।



लगता है मैं भूल...............

लगता है मैं भूल चुका हूँ मुस्कुराने का हुनर 

कोशिश जब भी करता हूँ आँसू निकल आते हैं 



Friday, 29 April 2016

तुझे देखु तो सारा............

तुझे देखु तो सारा जहाँ रंगीन नज़र आता है,

तेरे बिना दिल को चेन किसको आता है!


तुम ही हो मेरे दिल की धड़कन,

तेरा बिना यह संसार आवारा नज़र आता है




एक लफ्ज मुहब्बत........................


एक लफ्ज मुहब्बत का, 
इतना सा फसाना है, 

सिमटे तो दिले आशिक, 
बिखरे तो जमाना है।


कभी क़रीब तो ................

कभी क़रीब तो कभी दूर हो के रोते हैं, 

मोहब्बतों के भी मौसम अजीब होते हैं।



इसी कश्मकश का................


इसी कश्मकश का नाम मोहब्बत हैं... 

आंखों में समंदर हो फिर भी प्यास रहती हैं 



Thursday, 28 April 2016

कभी पहलू में...................


कभी पहलू में आओ तो बताएँगे तुम्हें, 
हाल-ए-दिल अपना तमाम सुनाएँगे तुम्हें । 

काटी हैं कैसे हमने तन्हाई की ये रातें, 
हर उस रात की तड़प दिखाएँगे तुम्हें ।


ख़ाक उड़ती है ............................

ख़ाक उड़ती है रात भर मुझमें... 

कौन फिरता है दर-ब-दर मुझमें, 

मुझ को मुझमें जगह नहीं मिलती... 

कोई मौजूद है इस क़दर मुझमें ।



मेरी चाहतें आप....................


मेरी चाहतें आप से अलग कब हैं, 

दिल की बातें आप से छुपी कब हैं, 

आप साथ रहो दिल में धड़कन की तरह, 

फिर ज़िन्दगी को साँसों की ज़रूरत कब है।



पहली मोहब्बत..................

पहली मोहब्बत थी मेरी हम ये जान न सके, 

ये प्यार क्या होता है हम पहचान न सके, 

हमने उन्हें दिल में बसाया है इस कदर कि, 

जब भी चाहा हम उसे दिल से निकाल न सके।



बहुत वक़्त लगा .....................

बहुत वक़्त लगा हमें आप तक आने में, 

बहुत फरियाद की खुदा से आपको पाने में, 

कभी तुम यह दिल तोड़ कर मत जाना, 

हमने उम्र लगा दी आप जैसा सनम पाने में।



आँख तो प्यार में..........................


आँख तो प्यार में दिल की ज़ुबान होती है, 

सच्ची चाहत तो सदा बे-ज़ुबान होती है, 

प्यार में दर्द भी मिले तो क्या घबराना, 

सुना है दर्द से ही चाहत और जवान होती है।



Wednesday, 27 April 2016

कोई कहता है प्यार.......................

कोई कहता है प्यार नशा बन जाता है, 

कोई कहता है प्यार सज़ा बन जाता है, 

पर प्यार करो अगर सच्चे दिल से, 

तो प्यार जीने की वजह बन जाता है।



नज़रें मिल जाएं.....................


नज़रें मिल जाएं तो प्यार हो जाता है, 

पलकें उठ जाएं तो इज़हार हो जाता है, 

ना जाने क्या कशिश है आपकी चाहत में, 

कि कोई अनजान भी 

हमारी ज़िन्दगी का हक़दार हो जाता है।



इत्तेफ़ाक़ से ही ..........................

इत्तेफ़ाक़ से ही सही मगर मुलाकात हो गयी, 

ढूंढ रहे थे हम जिन्हें उन से बात हो गयी, 

देखते ही उन को जाने कहाँ खो गए हम, 

वहीं से हमारे प्यार की शुरुआत हो गयी।



न समझ मैं.................

न समझ मैं भूल गया हूँ तुझे, 
तेरी खुशबू मेरे सांसो में आज भी हैं । 
मजबूरियों ने निभाने न दी मोहब्बत, 
सच्चाई मेरी वफाओ में आज भी हैं ।



Tuesday, 26 April 2016

पहली मोहब्बत.....................


पहली मोहब्बत थी और हम दोनों ही बेबस.. 

वो ज़ुल्फ़ें सँभालते रहे और मैं खुद को ।



हाल तो पूछ लूँ ..................


हाल तो पूछ लूँ तेरा पर डरता हूँ आवाज़ से तेरी... 

ज़ब ज़ब सुनी है कमबख्त मोहब्बत ही हुई है 



वो पिला कर जाम............

वो पिला कर जाम लबों से अपनी मोहब्बत का, 

अब कहते हैं नशे की आदत अच्छी नहीं होती।



दो चार लफ्ज़ प्यार....................

दो चार लफ्ज़ प्यार के लेकर हम क्या करेंगे, 

देनी है तो वफ़ा की मुकम्मल किताब दे दो



मोहब्बत यूँ ही................


मोहब्बत यूँ ही किसी से हुआ नहीं करती 

अपना वजूद भुलाना पड़ता है, 

किसी को अपना बनाने के लिए ।



मंजिल भी तुम हो,.......................

मंजिल भी तुम हो, तलाश भी तुम हो, 

उम्मीद भी तुम हो, आस भी तुम हो, 

इश्क भी तुम हो और जूनूँ भी तुम ही हो, 

अहसास तुम हो जिंदगी भी तुम ही हो।



Monday, 25 April 2016

लाखो हसीन.................


लाखो हसीन है इस दुनिया में तेरी तरह, 

क्या करे हमें तो तेरी रूह से प्यार है 



ख्वाहिश तो .................


ख्वाहिश तो थी मिलने की… 


पर कभी कोशिश नहीं की… 

सोचा के जब खुदा माना है उसको.. 


तो बिन देखे ही पूजेंगे ।


तुझे भूलकर ............

तुझे भूलकर भी न भूल पायेगें हम, 

बस यही एक वादा निभा पायेगें हम, 

मिटा देंगे खुद को भी जहाँ से लेकिन, 

तेरा नाम दिल से न मिटा पायेगें हम।



Saturday, 23 April 2016

अपने दिल की.................

अपने दिल की बात उनसे कह नहीं सकते, 
बिन कहे भी जी नहीं सकते, 

ऐ खुदा...ऐसी तकदीर बना, 
कि वो खुद हम से आकर कहे कि 

हम आपके बिना जी नही सकते।



तेरा नाम ही ..............

तेरा नाम ही ये दिल रटता है, 

ना जाने तुम पे ये दिल क्यू मरता है 

नशा है तेरे प्यार का इतना, 

कि तेरी ही याद में ये दिन कटता है।



Friday, 22 April 2016

टूटी हुई डाली का...................

टूटी हुई डाली का दर्द उसकी साख से पूँछो, 
धरती की प्यास बरसात से पूँछो, 

मैं आपको कितना चाहता हूँ, 
ये मुझसे नहीं अपने आप से पूँछो।



सितारों को आँखों............


सितारों को आँखों में महफूज रखना, 
बड़ी देर तक रात ही रात होगी, 

मुसाफिर हैं हम, मुसाफिर हो तुम भी, 
किसी मोड़ पर फिर मुलाक़ात होगी।



बेवक्त बेवजह...............

बेवक्त बेवजह बेसबब सी बेरुखी तेरी,  

फिर भी बेइंतहा तुझे चाहने की बेबसी मेरी।



जो रहते हैं दिल ...............

जो रहते हैं दिल में वो जुदा नहीं होते, 

कुछ एहसास लफ़्ज़ों से बयां नहीं होते, 

एक हसरत है कि उनको मनाये कभी, 

एक वो हैं कि कभी खफा नहीं होते।



बरबाद कर देती है...............


बरबाद कर देती है मोहब्बत, 

हर मोहब्बत करने वाले को, 

क्योंकि इश्क़ हार नही मानता, 

और दिल बात नही मानता।



याद रखने के लिए................

याद रखने के लिए आपकी कोई चीज चाहिए,

आप नहीं तो आपकी तस्वीर चाहिए,

आपकी तस्वीर हमारा दिल बहला न सकेगी,

क्योकि वो आपकी तरह मुस्कुरा न सकेगी!!!



Thursday, 21 April 2016

तुमको पाने की..............


तुमको पाने की तमन्ना नहीं फिर भी खोने का डर है, 

कितनी शिद्दत से देखो मैनें तुमसे मोहब्बत की है



Wednesday, 20 April 2016

वो दिल ही क्या.................

वो दिल ही क्या जो वफ़ा ना करे,

तुझे भूल कर जिएं कभी खुदा ना करे,

रहेगी तेरी मुहब्बत मेरी जिंदगी बन कर,

वो बात और है, अगर जिंदगी वफ़ा ना करे



वो मुझ तक आने.......................

वो मुझ तक आने की राह चाहता है,

लेकिन मेरी मोहब्बत का गवाह चाहता है,

खुद आते जाते मौसमो की तरहा है,

और मेरे इश्क़ की इंतेहः चाहता है|



आप होते जो मेरे..........

आप होते जो मेरे साथ तो कैसा होता,

बात बन जाती अगर बात तो कैसा होता,


सबने माँगा है मुझसे मुहब्बत का जवाब,


आप करते जो सवालात तो कैसा होता|


Bajaj Majesty New RCX 3 1.5-Litre 350-Watt Multifunction Rice Cooker

मेरी वफाएं सभी ............

मेरी वफाएं सभी लोग जानते हैं;


उसकी जफ़ाएं सभी लोग जानते हैं;

वो ही ना समझ पाए मेरी शायरी;

दिल की सदाएं सभी लोग जानते है।



तन्हा रहना तो..............


तन्हा रहना तो सीख लिया हमने,


लेकिन खुश कभी ना रह पाएंगे,

तेरी दूरी तो फिर भी सह लेता ये दिल,

लेकिन तेरी मोहब्बत के बिना ना जी पाएंगे.




Tuesday, 19 April 2016

मेरी वफाएं सभी................

मेरी वफाएं सभी लोग जानते हैं;

उसकी जफ़ाएं सभी लोग जानते हैं;

वो ही ना समझ पाए मेरी शायरी;

दिल की सदाएं सभी लोग जानते है