Google+ Followers

FREECHARGE CLICK & RECHARGE

loading...

Saturday, 27 February 2016

गमों का ये खजाना.............

गमों का ये खजाना किसी को लूटने नहीं देता,
मैं शायर हूँ, अपने फन को छूटने नहीं देता।

मुकद्दर की रेखाएँ बिखरी हैं तो बिखरने दो,
ऊपरवाले पर यकीन मेरा उठने नहीं देता।

सुकून मेरे चेहरे पर अक्सर खलता हैं लोगों को,
तो माथे की ये शिकन कभी मिटने नहीं देता।

दोहरी शक्लों की दुनिया में जज्बात परदे में रखता हूँ,
बड़ा शातिर हूँ, लफ्जों मे इनको बँटने नहीं देता।



उनसे मिलने.......................

उनसे मिलने को जो सोचों अब वो ज़माना नहीं,
घर भी कैसे जाऊं अब तो कोई बहाना नहीं,
मुझे याद रखना कहीं तुम भुला न देना ,
माना के बरसों से तेरी गली में आना - जाना नहीं।



रोकने की कोशिश............................

रोकने की कोशिश तो बहुत की पलकों ने..!!

पर इश्क में पागल थे आंसू खुदकुशी करते रहे.



मुदतें गुजरि....................

मुदतें गुजरि तेरी याद भी आई ना हमें ||

और हम भुल गये हों तुजे ऐसा भी नही |



मुस्कुराते लम्हो..............

मुस्कुराते लम्हो मे सनम चले आते हैं,
आप क्या जानो कहाँ से हमारे कदम चले आते हैं,
आज भी उस मोड़ पर खड़े हैं,
जहा किसी ने कहा था के ठहरो हम अभी आते हैं..



कभी अहसास...................

कभी अहसास भी तो पढ़ लिया करो ना,

हर बात को लफ्जों मे कहना मुमकिन तो नही होता



Thursday, 25 February 2016

पुरी दुनिया से................

पुरी दुनिया से चुरा कर मुझे अपना बनाने वाले,

कसुर क्या था मेरा जो तन्हा छोड़ गये.



अब किस तरह..............

अब किस तरह करे खुद को
तेरे प्यार के काबिल हम...?
हम आदते बदलते हे तो
तुम शर्ते बदल देते हो...



वो करते हैं ..............

वो करते हैं बात इश्क़ की,
पर इश्क़ के दर्द का उन्हें एहसास नहीं,
इश्क़ वो चाँद है जो दिखता तो है सबको,
पर उसे पाना सब के बस की बात नहीं!!



दिल में छिपी.................

दिल में छिपी यादों से सवारु तुझे,
तू देखे तो अपनी आँखों में उतारू तुझे,
तेरे नाम को लबो पे ऐसे सजाया हैं,
सो भी जाओ तो खाव्बो में पुकारू तुझे .



दीवाने है तेरे..................

दीवाने है तेरे नाम के इस बात से इंकार नहीं
कैसे कहे कि तुमसे प्‍यार नहीं
कुछ तो कसूर है आपकी आखों का
हम अकेले तो गुनहगार नहीं



धोखा दिया तुने.................

धोखा दिया तुने मुझे....
इस दिल से मैं नराज था..
सोचा तुम्हे दिल से निकाल दू मगर...
कम्बख्त दिल भी तुम्हारे पास था!!!!



आरज़ू होनी.................

आरज़ू होनी चाहिए याद करने की,

लम्हें तो अपने आप ही मिल जाते हैं.



Wednesday, 24 February 2016

आँखों के रास्ते ..............

आँखों के रास्ते धड़कन में बिखरने वाले,
लूट लेते हो क्यों चैन दिल में उतरने वाले,
खिल गया मेरा गुलबदन और सुर्ख चेहरा हुआ,
कैसा जादू सा किया मुझसे गुजरने वाले..



याद रखने के.................

याद रखने के लिए आपकी कोई चीज चाहिए,
आप नहीं तो आपकी तस्वीर चाहिए,
आपकी तस्वीर हमारा दिल बहला न सकेगी,
क्योकि वो आपकी तरह मुस्कुरा न सकेगी!!



वो बेवफा हमारा..............

वो बेवफा हमारा इम्तेहा क्या लेगी…
मिलेगी नज़रो से नज़रे तो अपनी नज़रे ज़ुका लेगी…
उसे मेरी कबर पर दीया मत जलाने देना…
वो नादान है यारो… अपना हाथ जला लेगी.



घर से बाहर ................

घर से बाहर कोलेज जाने के लिए वो नकाब मे निकली….
सारी गली उनके पीछे निकली…
इनकार करते थे वो हमारी मोहबत से……….
और हमारी ही तसवीर उनकी किताब से निकली



उस जैसा ...............

उस जैसा मोती पूरे समंद्र में नही है,
वो चीज़ माँग रहा हूँ जो मुक़्दर मे नही है,
किस्मत का लिखा तो मिल जाएगा मेरे ख़ुदा,
वो चीज़ अदा कर जो किस्मत में नही है…



कौन कहता है.................

कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे,
हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे,
वो तरस जायेंगे प्यार की एक बून्द के लिए,
हम तो बादल है प्यार के…
किसी और पर बरस जायेंगे|



चले गए है................

चले गए है दूर कुछ पल के लिए ,
मगर करीब है हर पल के लिए,
किसे भुलायेंगे आपको एक पल केलिए,
जब हो चूका है प्यार उम्र भर के लिए 


बिखरे अश्को.................

बिखरे अश्को के मोती हम पिरो न सके,
तेरी याद मे सारी रात सो न सके,
बह न जाए आँसू मे तस्वीर तेरी,
ये सोच कर हम रो न सके...



जो जितना दूर.............

जो जितना दूर होता है नज़रो से,
उतना ही वो दिल के पास होता है,
मुश्किल से भी जिसकी एक ज़लक देखने को ना मिले,
वही ज़िंदगी मे सबसे ख़ास होता है.



एक दिन...............

एक दिन मैंने दिल से पूछा,
वादो और यादो में क्या फर्क है ,
जवाब मिला वादे इंसान तोड़ देता है,
और यादे इंसान को तोड़ देती है।।



खामोश दिलो.............

खामोश दिलो की धड़कन सुनाई नही देती,
ये तो बो अदा है जो दिखाई नही देती ।
उर्म गुजर रही है तेरे इंतजार में,
बस एक तुम हो जो दिखाई नहीं देती।



Tuesday, 23 February 2016

कभी ख़ुशी से.............

कभी ख़ुशी से खुशी की तरफ़ नहीं देखा,
तुम्हारे बाद किसी की तरफ़ नहीं देखा,
ये सोचकर कि तेरा इन्तज़ार लाजमी है,
तमाम उम्र घड़ी की तरफ़ नहीं देखा।।



दर्द दे गए.............

दर्द दे गए सितम भी दे गए,
जख्म के साथ वो मरहम भी दे गए,
दो लफ्जो से कर गए अपना मन हल्का,
और हमे कभी ना रोने की कसम दे गए..



जागना भी...............

जागना भी कबूल है तेरी यादों में रात भर. !"

तेरे एहसासो में जो सकून है "वो नीद में कहाँ 



यूँ तो कोई .................................

यूँ तो कोई शिकायत नहीं...मुझे मेरे आज से ....

मगर कभी-कभी बीता हुआकल बहुत याद आता है



इतना बता दो.................

इतना बता दो कैसे साबित करूँ कि तुम याद आते हो,.

शायरी तुम समझते नहीं और अदायें हमे आती नहीं



प्यार के समुन्दर ......................

प्यार के समुन्दर में सब डुबना चाहते हैं,
प्यार में कुछ खोते है तो कुछ पाते हैं,
प्यार तो इक गुलाब है सब तोड़ना चाहते हैं,
हम तो इस गुलाब को चुमना चाहते हैं...



महोब्बत लफ्जों................

महोब्बत लफ्जों की मोहताज नहीं होती,
जब तनहाई में आपकी याद आती है,
होठों पे एक ही फरियाद आती हैं,
खुदा आपको हर खुशी दे,
क्योकि आज भी हमारी हर खुशी,
आपके बाद आती है...



कुछ सितारों............

कुछ सितारों की चमक नही जाती,
कुछ यादों की खनक नहीं जाती,
कुछ लोगो से होता है ऐसा रिश्ता,
की दूर रह कर भी उनकी महक नहीं जाती।..



क्या सुनाएँ हम...................

क्या सुनाएँ हम आपको दास्ताँ-ए-गम,
अर्ज किया है..
क्या सुनाएँ हम आपको दास्ताँ-ए-गम,
जब से आप मिले हो परेशान हो गए हैं हम..


नन्हे से दिल ..........................

नन्हे से दिल मे अरमान कोई रखना,
दुनिया की भीड मे पहचान कोई रखना,
अच्छे नही लगते जब रहते हो उदास,
इन होठों पर सदा मुस्कान सजाए रखना



Monday, 22 February 2016

मुझे कुछ अफ़सोस...............

मुझे कुछ अफ़सोस नहीं के मेरे पास सब कुछ होना चाहिए था,

मै उस वक़्त भी मुस्कुराता था जब मुझे रोना चाहिए था ।



मेरी फितरत.................

मेरी फितरत में नहीं अपना ग़म बयां करना...
अगर मेरे बजूद का हिस्सा है
तो महसूस कर तकलीफ मेरी।



क्या अजीब ...............

क्या अजीब सी ज़िद है हम दोनों की,
तेरी मर्ज़ी मुझसे जुदा होने की और
मेरी तेरे पीछे तबाह होने की..!



ग़ज़लों का...................

ग़ज़लों का हुनर साकी को सिखायेंगे,
रोएंगे मगर आँसू नहीं आयेंगे,
कह देना समंदर से हम ओस के मोती हैं,
दरिया की तरह तुझसे मिलने नहीं आयेंगे।


Saturday, 20 February 2016

वो दर्द ही क्या.....................

वो दर्द ही क्या जो आँखों से बह जाए,
वो ख़ुशी ही क्या जो होठों पर रह जाए,
कभी तो समझो मेरी ख़ामोशी को,
वो बात ही क्या जो लफ्ज़ आसानी से कह जाए!



मैं तो झोंका हूँ..................

मैं तो झोंका हूँ हवा का उड़ा ले जाऊँगा,
जागती रहना तुझे तुझसे चुरा ले जाऊँगा,
हो के कदमों पे निछावर फूल ने बुत से कहा,
ख़ाक में मिल के भी मैं खुश्बू बचा ले जाऊँगा.



ग़ज़लों का.................

ग़ज़लों का हुनर साकी को सिखायेंगे,
रोएंगे मगर आँसू नहीं आयेंगे,
कह देना समंदर से हम ओस के मोती हैं,
दरिया की तरह तुझसे मिलने नहीं आयेंगे



हम ने देखी है.........................

हम ने देखी है उन आँखों की महकती खुशबू,
हाथ से छूके इसे रिश्तों का इल्जाम ना दो,
सिर्फ एहसास है ये, रूह से महसूस करो,
प्यार को प्यार ही रहने दो, कोई नाम ना दो..



याद तुम्हे.............

याद तुम्हे कितना करता हूँ, पूछना कभी उस चाँद से,

मैं तुम्हारे किस्से हर रात उसे सुनाया करता हूँ..!



हर खुशी से...................

हर खुशी से हमे अंजान कर दिया,
हमने तो कभी नही चाहा की
हमे भी मोहब्बत हो,
लेकिन आप की एक नज़र ने हमे,
नीलाम कर दिया.


दिल की हर...............

दिल की हर बात ज़माने को बता देते है,
अपने हर राज़ से परदा उठा देते है,
चाहने वाले हमेँ चाहे या ना चाहे,
हम जिसे चाहते है, उस पर ज़ान लुटा देते है।


हर किसी का..........................

हर किसी का दिल में अरमान नही होता.
हर कोई दिल का ‪‎मेहमान‬ नही होता.
पर जो एक बार दिल में बस जाये.
उसे भुला कर जीना आसान नही होता..



Friday, 19 February 2016

उसके सिवा................

उसके सिवा किसी और को चाहना मेरे बस में नहीं है,

ये दिल उसका है अपना होता तो बात और होती 



होता अगर ..................

होता अगर मुमकिन, तुझे ‪साँस‬ बना कर रखते सीने में

तू रुक जाये तो मैं नही, मैं ‪‎मर‬ जाऊँ तो तू नही..



वो ‪‎चाँद‬ है

वो ‪‎चाँद‬ है मगर आप से प्यारा तो नहीं,
परवाने का शमा के बिन गुजारा तो नहीं,
मेरे ‪‎दिल‬ ने सुनी है एक मीठी सी आवाज़,
लगता है कहीं आपने मुझे पुकारा तो नहीं।।



अश्क बन कर ..................

अश्क बन कर आँखों से बहते हैं,
बहती आँखों से उनका दीदार करते हैं,
माना की ज़िंदगी मे उन्हे पा नही सकते,
फिर भी हम उनसे बहुत प्यार करते हैं.